Top 100 अब्दुल कलाम के अनमोल विचार | APJ Abdul Kalam Quotes in Hindi

APJ Abdul Kalam Quotes in Hindi

Types of Contents

अंग्रेजी भाषा

अंग्रेजी आवश्यक है, क्योंकि वर्तमान में विज्ञान का मौलिक कार्य अंग्रेजी में ही हो रहा है। मुझे विश्वास है कि दो दशकों में विज्ञान का मौलिक कार्य हमारी अन्य भाषाओं में होने लगेगा।

अंत:करण

अंत:करण एक महान् बही-खाता भी है, जहाँ हमारे अपराध दर्ज होते रहते हैं। यह भयानक चश्मदीद गवाह भी है। यह धमकाता है, वादा करता है, इनाम व दंड देता है और सबकुछ अपने नियंत्रण में रखता है। अगर अंत:करण को एक बार दुःख पहुँचता है तो यह चेतावनी है और अगर यह दूसरी बार होता है तो निंदा है।

अंत:करण आत्मा की ज्योति है, जो हमारे मानसिक हृदय के अंदर जलती रहती है। जब कभी इसे लगता है कि कुछ गलत सोचा जा रहा है या गलत किया जा रहा है तो यह विरोध में आवाज उठाता है।

APJ Abdul Kalam Quotes in Hindiअंतरिक्ष

1. अंतरिक्ष अनुसंधान में कई सांसारिक समस्याओं का समाधान निहित है।

2. मुझे लगता है कि भविष्य में अंतरिक्ष अनुसंधान में भारत का महत्वपूर्ण योगदान अंतरिक्ष के औद्योगिकीकरण पर आधारित चंद्रमा और मंगल के लिए अंतरिक्ष मिशन होगा।

3. भविष्य के अंतरिक्ष अनुसंधान में अंतरिक्ष से पुनर्नवीकृत ऊर्जा की लगातार आपूर्ति के वैश्विक मिशन में भागीदारी से बेहतर और क्या हो सकता है?

4. अंतरिक्ष कार्यक्रम भारत के अरबों लोगों के जीवन को कई तरह से प्रभावित करता आ रहा है।

5. अंतरिक्ष शोध प्रौद्योगिकी-जनित है। यह सही रूप में अंतर-अनुशासनिक है और विज्ञान तथा इंजीनियरिंग के विविध क्षेत्रों के मेल में सही नवीनता की योग्यता देता है। यह लगभग ‘हरित प्रौद्योगिकी’ है। यह महानतम संपत्ति है, क्योंकि इससे पृथ्वी पर मानवीय जीवन की गुणवत्ता में सुधार हुआ है। प्रत्यक्ष योगदानों के अलावा अंतरिक्ष शोध का नतीजा कॉर्डिएक स्टेंट और दिल में लगाए जानेवाले पेसमेकर जैसे नवीन उत्पादों के डिजाइन करने में भी सामने आता है।

6. चीजें चलाते रहने और मानव जाति के सपनों को प्रौद्योगिकियों के जरिए पूरा करने में अंतरिक्ष अनुसंधान का मुख्य ध्यान रहा है और इस पर मानव जाति को गर्व होना चाहिए।

7. अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल ज्वालामुखी फटने, भू-स्खलन, हिमपात, बाढ़, आँधी-तूफान, बवंडरों की भविष्यवाणी करने में भी किया जा सकता है।

अंतरिक्ष में शांति

विश्व के अंतरिक्ष समुदाय को बाहरी अंतरिक्ष में सांसारिक भू-राजनीतिक विवादों से बचना चाहिए, जो कि सारी मानव जाति से जुड़ी अंतरिक्षीय संपत्ति के लिए खतरा हो सकते हैं।

अंतरिक्ष लक्ष्य 2050

1. विश्व के अंतरिक्ष लक्ष्य में पाँच क्षेत्र शामिल हैं, जो अंतरिक्ष विज्ञान, प्रौद्योगिकी और उपयोगों के लिए महत्त्वपूर्ण हैं। ये क्षेत्र हैं -अंतरग्रहीय अनुसंधान और अंतरिक्ष औद्योगिकीकरण, अंतरिक्ष तक पहुँचने की लागत में कमी और बड़े पैमाने पर सामाजिक मिशन, अंतरिक्ष उपग्रह सेवा केंद्र, अंतरिक्ष में शांति बनाए रखने की आवश्यकता, अंतरराष्ट्रीय सहयोग से प्रबंधकीय ढाँचा।

2. विश्व के अंतरिक्ष लक्ष्य 2050 से मानव जीवन की गुणवत्ता सुधरेगी, अंतरिक्ष अनुसंधान की भावना प्रेरित होगी, ज्ञान के क्षितिज का विस्तार होगा और विश्व के सभी राष्ट्रों के लिए अंतरिक्ष की सुरक्षा सुनिश्चित होगी ।

‘अग्नि’ मिसाइल

मत समझो अग्नि को वस्तु मात्र, जो आसमान में जाती है

हर अपशकुन का नाश करे या शक्ति मात्र दिखलाती है।

यह अग्नि हर भारतवासी के दिलों को रोशन करती जाती है।

मत समझो इसे मिसाइल मात्र गौरव है यह देश का, जो माथा सबका चमकाती है।

अध्यवसाय

1. विचारों और प्रश्न करने की प्रक्रिया नहीं रोकी जा सकती। समस्याओं को हल करने के लिए कार्य करने की आवश्यकता है और इसके लिए कड़ी मेहनत व अध्यवसाय की आवश्यकता होती है।

2. कड़ी मेहनत और अध्यवसाय सुंदर फरिश्ते हैं, जो हमारे कंधों पर निवास करते हैं।

अनुभव

विश्वास और असत्य के बीच अनुभव होते हैं।

अनुसंधान

अच्छे शिक्षण से ही अनुसंधान होता है। किसी भी संस्थान के विकास के लिए शिक्षकों का अनुसंधान के प्रति प्यार और अनुसंधान का उनका अनुभव बहुत ही आवश्यक है। किसी भी संस्थान का आकलन उसके अनुसंधान कार्य की मात्रा और स्तर से किया जाता है। इससे उत्कृष्टता का दौर शुरू हो जाता है। अनुसंधान के अनुभव से स्तरीय शिक्षण संभव होता है और स्तरीय शिक्षण से युवाओं को अनुसंधान की ओर उन्मुख करता है।

अनेकता में एकता

1.लोग सभी आस्थाओं के प्रति समान आदर और सहिष्णुता रखे हैं। घृणा और क्रोध की जगह प्रेम और शांति अपनाई जा चुकी है। धर्म आध्यात्मिकता में बदलता है। सभी नागरिक वैश्विक भाईचारा अपनाए हैं।

2. क्या यह सब स्वप्न है? स्वप्न हमेशा विचार बनते हैं, विचार मिशन में बदलते हैं और मिशन से सैकड़ों लक्ष्याधारित परियोजनाएँ पैदा होती हैं।

अपमान

सितारों तक न पहुँच पाने में कोई अपमान नहीं है, अपमान तो अपनी पहुँच में कोई सितारे का न होने में है।

अमर जवान ज्योति

“हमारे दिलों में साहस की ज्योति जगाती है देश में भक्ति की किरण फैलाती है

बलिदान का संदेश देती है अपने देश में विश्वास जगाती है।

हवा में आशा की लहरें बहाती है पवित्र और निर्मल दृश्य गुंथे हुए।

उलटी बंदूकों और हेलमेट जैसे टोप वादा निभानेवाले वीरों की वेदियाँ

शानदार काला ग्रेनाइट और चारों कोनों पर जलती हुई लौ

उनके सार्थक कार्यों की श्रद्धापूर्ण शांति पुष्पांजलि और आँखों में नमी

अमर जवान ज्योति को हमारा श्रद्धापूर्वक नमन।”

अयोग्यता

अयोग्यता का विचार हमारे मन से ही आता है।

असंभव

1. जब लोग किसी कार्य को असंभव बताएँ तो उन पर विश्वास मत करो। कुछ भी असंभव नहीं है।

2. ‘असंभव’ शब्द को शब्दकोश से ही हटा देना चाहिए ।

APJ Abdul Kalam Quotes in Hindi- आई.ए.एस. प्रशिक्षुओं की शपथ

1. मेरी जहाँ भी नियुक्ति होगी, मैं वहाँ ग्रामीणों, विशेषकर महिलाओं और विशिष्ट बच्चों के बीच 100 प्रतिशत प्रौढ़ साक्षरता के लिए कार्य करूँगा और यह भी सुनिश्चित करूँगा कि कोई भी बच्चा स्कूल की पढ़ाई अधूरी न छोड़े।

2. मेरी जहाँ भी नियुक्ति होगी, मैं सुनिश्चित करूँगा कि महिलाओं का स्तर सुधरे और गाँवों में पुरुष-महिला जन्मों की समानता लाने के लिए कार्य करूँगा।

3. मैं सुनिश्चित करूँगा कि कोई भी मुझे भ्रष्टाचार का लालच न दे सके।

4. जिलों में नियुक्ति के दौरान मैं सुनिश्चित करूँगा कि कम- से-कम 1 लाख पौधे लगाए जाएँ और उनकी देखरेख की जाए।

5. मैं जिला में कम-से-कम पाँच पी.यू.आर.ए. (ग्रामीण क्षेत्रों में शहरी सुविधाएं मुहैया कराना) समूह बनाऊँगा और ग्रामीण उद्यमियों द्वारा ग्रामीण उद्यमों के जरिए कम-से कम 25 प्रतिशत युवाओं को रोजगार के अवसर सृजित करूँगा।

आतंकवाद

1. तेजी से वैश्विक होती जा रही दुनिया में आतंकवाद, कट्टरपंथ और अतिवाद जैसे खतरों व चुनौतियों से अंतरराष्ट्रीय प्रतिबद्धता और सहयोग से निपटा जा सकता है। हम हर तरह के आतंकवाद के खिलाफ मजबूती से खड़े हों।

2. आतंकवाद वैश्विक शांति और सुरक्षा के लिए गंभीरतम खतरा है और सबसे बुनियादी मानवाधिकार जीवन के अधिकार का उल्लंघन करता है। आतंकवाद की बुराई अंतरराष्ट्रीय सीमाएँ पार कर चुकी है और इससे निपटने के लिए सभी राष्ट्रों को आपस के करीबी सहयोग से काम करना होगा।

3. हम भारतीय इससे लड़ने के लिए दृढ़ संकल्पित हैं। आतंकवाद अर्थव्यवस्थाओं और हमारी तरह के खुले समाजों के सद्भाव को नष्ट कर सकता है।

आत्मा

आत्मा ही स्थान है, कार्यकर्ता है और मानवीय अनुभव की रूपांतरित सामग्री है।

आत्मालोचना

आपको स्वयं की आलोचना करनी चाहिए। आपको उस हर बात पर विचार करना चाहिए, जो आपकी सोच का विरोध करती है और आपको कभी कोई गलती छिपानी नहीं चाहिए।

आनेवाला कल

अपने बच्चों के भविष्य को बेहतर बनाने के लिए हमें अपने आज का बलिदान करना चाहिए।

आपदा

सहयोग के जरिए आपदा से निपटना चाहिए।

आम आदमी

हम जिस किसी भी क्षेत्र में काम करते हों, हमें हमेशा आम आदमी की सेवा करते रहना चाहिए। सारे मानवीय ज्ञान और उद्यम के केंद्र में उसी की भलाई होनी चाहिए ।

APJ Abdul Kalam Thougths in Hindi आथिर्क विकास

राष्ट्र का आर्थिक विकास प्रतिस्पर्धात्मकता से शासित होता है।

प्रतिस्पर्धात्मकता ज्ञान की शक्ति से शासित होती है।

ज्ञान की शक्ति प्रौद्योगिकी और नवीनता से शासित होती है। प्रौद्योगिकी और नवीनता संसाधन निवेश से शासित होते हैं।

संसाधन निवेश राजस्व और निवेश पर मिलनेवाले प्रतिफल से शासित होता है।

राजस्व परिमाण और उपभोक्ताओं की निष्ठा के जरिए बिक्री की बारंबारता से शासित होता है।

उपभोक्ताओं की निष्ठा उत्पादों की गुणवत्ता और मूल्य से शासित होती है।

उत्पादों की गुणवत्ता और मूल्य कर्मचारियों की उत्पादकता और नवीनता से शासित होती है।

है कर्मचारियों की उत्पादकता कर्मचारियों की निष्ठा, कर्मचारियों की संतुष्टि और कार्य के माहौल से शासित होती है।

कार्य का माहौल प्रबंधन की देखरेख से शासित होता है।

प्रबंधन की देखरेख रचनात्मक नेतृत्व से शासित होती है।

आशावाद

मेरा विचार है कि युवावस्था में आपका आशावाद अधिक होता है और आपके पास कल्पनाशीलता अधिक होती है। आप पूर्वग्रह से कम ग्रस्त होते हैं।

इक्कीसवीं शताब्दी

इक्कीसवीं शताब्दी हमारे द्वारा पैदा किए गए सारे ज्ञान एवं जानकारी के प्रबंधन की और उसमें गुणवत्ता सुधार करने की है।

इच्छा-शक्ति

मैंने अपनी असफलताओं से सीखा है और उनका सामना करने के लिए हिम्मत से अपने को मजबूत किया है।

APJ Abdul Kalam Quotes in Hindiइरादा

जब कोई व्यक्ति स्वयं को देखता है तो उसे भ्रम होने की आशंका रहती है। वह सिर्फ अपने इरादे देखता है।

अधिकतर लोगों के इरादे अच्छे होते हैं और इससे वे यह निष्कर्ष निकाल लेते हैं कि वे जो कर रहे हैं, अच्छा कर रहे हैं।

अपने कार्यों का आकलन कर पाना किसी व्यक्ति के लिए कठिन है, क्योंकि उसके कार्य उसके अच्छे इरादों के विपरीत हो सकते हैं और अकसर होते भी हैं।

अधिकतर लोग करने के इरादे से ही काम हाथ में लेते हैं। अधिकतर लोग काम करने में वह तरीका अपनाते हैं, जो उन्हें सुविधाजनक लगता है और ऐसा करने के बाद शाम को संतुष्टि की भावना के साथ घर चले जाते हैं।

वे अपने प्रदर्शन का आकलन नहीं करते, सिर्फ अपना इरादा देखते हैं।

ऐसा मान लिया जाता है कि किसी व्यक्ति ने अपना काम समय पर पूरा कर लेने के इरादे से किया है तो किसी तरह की देर होने का कारण उसके नियंत्रण से बाहर होगा।

उसका देर करने का कोई इरादा नहीं था। हालाँकि अगर उसके कार्य करने या न करने की वजह से ही देर हुई है तो क्या वह गैर-इरादतन माना जाएगा?

ईमानदार और न्यायप्रिय जीवन

राजा से लेकर रंक तक, ईमानदार जीवन जीना सभी के लिए आवश्यक नींव है।

हमारा ईमानदार परिश्रम हमें दिशा-निर्देशन देनेवाला प्रकाश है। अगर हम कड़ी मेहनत करेंगे तो हम समृद्ध हो सकेंगे। महान् विचारों को पनपने दो, कार्यों में बदलने दो। ईमानदार तरीके हमारे दिग्दर्शक होंगे।

अगर ऊँचे और जिम्मेदार पदों पर बैठे लोग न्यायप्रियता के खिलाफ होंगे तो न्यायप्रियता ही विध्वंसक रूप में बदल जाएगी।

न्यायप्रियता शाश्वत भलाई और मानवीय व्यवहार की बेहतरी है। जब हमें विश्व में शांति की आवश्यकता होती है, हमें राष्ट्र में व्यवस्था चाहिए होती है, घर में सद्भाव चाहिए होता है।

जब हृदय में ईमानदारी होगी तो चरित्र में सुंदरता होगी ।

ईश्वर

हमारे सृजक ईश्वर ने हमारे हृदयों और व्यक्तित्वों में महान् संभावनाएँ, शक्ति और योग्यता भर दी है। प्रार्थना से इन शक्तियों को उपयोग में लाने और इनका विकास करने में सहायता मिलती है।

ईश्वर ने जिसका वादा किया है, वह हैं-दिन भर के लिए शक्ति, किए गए कार्य के लिए आराम, रास्ते के लिए प्रकाश?

इस ग्रह का हरेक जीव ईश्वर ने किसी विशिष्ट कार्य के लिए बनाया है।

APJ Abdul Kalam Quotes in Hindiईश्वर का संदेश

मानव प्रजाति, तुम मेरी सर्वश्रेष्ठ रचना हो,

तुम जीवन जिओगे और जिओगे;

जब तक तुम एकजुट हो तब तक तुम देते रहोगे, देते रहोगे,

मानवीय सुखों-दु:खों में;

मेरा परमानंद तुम्हारे अंदर रहेगा,

प्यार सतत है;

यह मानवता का मिशन है,

जीवन वृक्ष में तुम हर रोज देखोगे;

तुम सीखोगे और सीखोगे,

मेरी सर्वोत्तम रचना।

दु:खों का निवारण ईश्वर का उद्देश्य है ।

दुःख-दर्द के निवारण के लिए किया गया सारा कार्य ईश्वर का ही किया हुआ है।

APJ Abdul Kalam Quotes in Hindiईश्वर से प्रार्थना

सर्वशक्तिमान ईश्वर,

मेरे लोगों को परिश्रमी बनाओ;

उनके परिश्रम से और ज्यादा ‘अग्नियाँ’ बनने दो,

जो बुराइयों का नाश कर सकें;

मेरे देश को शांतिपूर्वक समृद्ध होने दो;

मेरे लोगों को सद्भाव से रहने दो,

देश के गर्वीले नागरिक के रूप में

मुझे धूल में मिलने दो,

ताकि मैं फिर से उठ खड़ा हो सकूँ और फिर से इसकी महिमा का आनंद उठा सकूँ।

मेरे लोगों के मन में विचार पैदा करो

और उन विचारों को कार्य में बदल दो।

नेताओं और लोगों के दिमाग में यह विचार बैठा दो कि राष्ट्र हर चीज से बढ़कर है।

मेरे देश के सभी नेताओं को शक्ति प्रदान करो,

और राष्ट्र को शांति व समृद्धि का आशीर्वाद दो।

मेरे सभी धार्मिक नेताओं को शक्ति दो कि वे हमारे अरबों लोगों के मन को एकजुट कर सकें।

हे सर्वशक्तिमान! मेरे लोगों को परिश्रम और अपने देश को विकासशील से विकसित राष्ट्र में बदलने का आशीर्वाद दो।

यह दूसरा विचार मेरे लोगों के परिश्रम से सामने आने दो,

और हमारे युवाओं को विकसित भारत में रहने का आशीर्वाद दो।

उत्पादकता

उच्च उत्पादकता और आमदनी के लिए वैज्ञानिकों एवं किसानों की भागीदारी आवश्यक है। सबसे महत्त्वपूर्ण काम किसानों को सहकारी संस्थाओं से अच्छी गुणवत्ता के बीज, खाद और कीटनाशक मुहैया कराना है।

उद्देश्यहीन गतिविधि

कभी खत्म न होनेवाली उद्देश्यहीन गतिविधि आखिरकार निरर्थक विचारों और कार्यों के एक और चक्र को स्थायी बनाने का असहाय भावनाएँ पैदा कर देती है।

उद्यमी

कौशलों की विविधता और कार्य में अध्यवसाय से ही उद्यमी तैयार होते हैं।

किसी उद्यमी के मुख्य लक्षण कामना, अभियान, अनुशासन और दृढ़ निश्चय होते हैं।

उन्नति

जब सीखना उद्देश्यपूर्ण हो, रचनात्मकता फलती-फूलती है; जब रचनात्मकता फलती-फूलती है तो विचार उत्पन्न होते हैं; जब विचार उत्पन्न होते हैं तो ज्ञान जाग्रत् होता है; जब ज्ञान जाग्रत् होता है तो राष्ट्र उन्नति करता है।

सामूहिक विचार ही उन्नति है।

कमजोरियों के ताकत बनने तक, अंधकार के प्रकाश बनने तक, गलत के सही होने तक आकांक्षा और द्वेष की भावनाएँ दबाकर रखें।

ऊर्जा

ऊर्जा के बारे में आत्मनिर्भरता भारत की प्रथम और सबसे महत्त्वपूर्ण प्राथमिकता है। हम इस लक्ष्य को वर्ष 2030 तक हासिल करने के बारे में दृढ़ संकल्पित हैं। ऐसा तीन विभिन्न स्रोतों-पुनर्नवीनीकृत ऊर्जा (सौर, पवन और पनबिजली), परमाणु ऊर्जा जनित विद्युत् ऊर्जा और परिवहन क्षेत्र के लिए जैव ईंधन से किया जाएगा।

एन.सी.सी. कैडेटों की शपथ

राष्ट्रीय प्रगति और विकास हमारा लक्ष्य होगा

हम भारत को ज्ञानवान् समाज बनाने के लिए परिश्रम करेंगे।

हम आदर्श प्रस्तुत कर अपने देशवासियों को अनुशासित नागरिक बनने में सहायता करेंगे।

हम अपने घरों को न्यायप्रिय बनाने, पर्यावरण को स्वच्छ बनाने और पढ़ाई तथा अपने कार्यों में उत्कृष्टता लाने के लिए आंदोलन की रचना करेंगे।

हम अपने समाज में महिलाओं पर अन्याय समेत सारी सामाजिक बुराइयों के विरुद्ध लड़ेंगे और अपने समाज में महिलाओं को सम्मानजनक स्थान उपलब्ध कराएंगे।

हम ज्ञान और उच्च नैतिक मूल्यों के जरिए समाज से भ्रष्टाचार दूर करेंगे।

हम राष्ट्रीय एकता, राष्ट्रीय सुरक्षा और देशभक्ति के जरिए राष्ट्र को मजबूत बनाएँगे।

हम बालिकाओं की स्थिति सुधारने के लिए कार्य करेंगे और उन्हें समाज में समान अधिकार उपलब्ध कराएँगे।

APJ Abdul Kalam Quotes in Hindiएम.एस. सुब्बुलक्ष्मी की स्मृति में

तुम संगीत के सातों सुर हो

तुम्हारे संगीत से शांति और गीत मिलते हैं।

संगीत के साथ-साथ तुमने बहुत सारा धन दिया है।

तुमने ईश्वर को भी चमत्कृत किया और

उसे मानव स्वर के महत्त्व का अहसास कराया।

हमारे जैसे हजारों-हजार लोग तुम्हारे आत्मीय संगीत से सराबोर हुए हैं।

तुम्हारे सुमधुर संगीत ने हमारे दिलों को छू लिया है और 80 वर्षों तक तुम वसंत की तरह रहीं।

तुम एक नारी नक्षत्र हो, जिसने मध्यमवती में हार बुना है। तुम श्रीरागम में अग्रणी बनीं और महान् ऊँचाइयाँ हासिल की

भक्ति संगीत से लेकर ‘भारत रत्न’ तक

तुमने हमें तानसेन के संगीत के महत्त्व का अहसास कराया,

और तुम समय का महान् उपहार हो।

तुम अन्नामाचार्य, पुरंदरदास और कर्नाटक संगीत की त्रिमूर्ति के कीर्तनों में अग्रणी बनीं,

अपने सुरों से तुमने तमिल संगीत का उत्थान किया अब तुम समय में विलीन हो चुकी हो, फिर भी तुम्हारा संगीत आनेवाले समय में कायम रहेगा अब तुम इस दुनिया को छोड़कर स्वर्ग जा चुकी हो, फिर भी तुम यहाँ रहनेवाले करोड़ों-करोड़ लोगों के दिलों में बसी हो और तुम दूसरी दुनिया में भी संगीत की धुन लहरा रही होगी।

एम.एस. सुब्बुलक्ष्मी को श्रद्धांजलि

तुम्हारे सुंदर कार्यों समेत तुम्हारा संगीत आनेवाले लंबे समय तक कायम रहेगा; तुम संगीत में पैदा हुई थीं, संगीत में जीती रहीं, और अब तुम हमेशा के लिए दैवी संगीत में विलीन हो गई हो।

कंप्यूटर और गजट

भविष्य में ज्यादातर कंप्यूटर और गजट बहुत छोटे आकार के, पहनने योग्य होंगे और एक-दूसरे से बेतार के जरिए जुड़े होंगे।

कठिनाइयाँ

व्यक्ति के लिए कठिनाइयाँ आवश्यक हैं, क्योंकि सफलता का आनंद उठाने के लिए कठिनाइयों का होना आवश्यक है।

कड़ी मेहनत

हम सभी को कड़ी मेहनत करनी चाहिए और हर व्यक्ति के अधिकारों की रक्षा करने के लिए अपने व्यवहार को सभ्य बनाने के उद्देश्य से हमें हरसंभव प्रयास करना चाहिए ।

कला

कला मानव के अस्तित्व को अर्थ और गहराई प्रदान करते हुए जीवन की सुंदरता को उत्कृष्टतम रूप में सामने लाती है।

कला जीवन के अस्तित्व को बनाए रखने में सहायता करती है।

कला प्रकृति की आंतरिक सुंदरता की सौम्य अभिव्यक्ति है। कार्टून हो, मूर्तिकला हो या साहित्यिक रचना हो, यह सभी को देखने और आनंद उठाने के लिए जीवन की सुंदर भावना का उन्नयन करती है।

कामना

जब आप किसी सितारे की कल्पना करते हैं तो इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप कौन हैं; जिस किसी चीज की आपका दिल कामना करता है, वह आपको मिल जाती है।

कार्य

कौन से कार्य सबसे बेहतरीन हैं?किसी इनसान के हृदय को प्रफुल्लित करना, किसी भूखे को खाना खिलाना, पीडितों की मदद करना, किसी दु:खी के दुःख को हलका करना, किसी घायल के घावों पर मरहम लगाना!

पहले सपने विचारों के रूप में बदलते हैं, इसके बाद विचार कार्यों के रूप में परिणत होते हैं।

अच्छे कार्य की हर जगह सराहना होती है।

कृषि

कृषि देश की रीढ़ है। देश अपने विकास के लिए प्रतीक्षा नहीं कर सकता।

विकास और उत्पादन के लिए कृषि को सेवा-आधारित वृद्धि की आवश्यकता है।

सशक्त कृषि सेवा केंद्रों को दो चरणों पर आधारित प्रणाली के जरिए विशेषज्ञों के दल का सहयोग मिलना चाहिए जिला स्तर पर और राष्ट्रीय स्तर पर।

कृषि के कचरे को धन के रूप में बदलने के लिए सांगठनिक कृषि के चलन को अपनाना चाहिए और गाँवों में कचरा भूमि से जैविक ईंधन का उत्पादन ग्रामीण क्षेत्र में मिशन के रूप में अपनाया जाना चाहिए। शैक्षणिक संस्थाएँ, सक्रिय डी.आर.डी.ए. और कृषि उपसंचालक को स्वयंसेवी संगठनों की सहायता से इन कार्यक्रमों को संचालित करना चाहिए।

क्षमता निर्माण

क्षमता निर्माण के लिए शिक्षक-छात्र अनुपात में बढ़ोतरी, शिक्षकों के स्तर में सुधार, उन्हें नई-नई पद्धतियाँ उपलब्ध कराना अनिवार्य है, ताकि वे अपने शिक्षण कौशल में सुधार कर सकें, छात्रों को प्रौद्योगिकी संबंधी सहायता उपलब्ध करा सकें और वे आजीवन स्वतंत्र रूप से विद्यार्थी बन सकें।

क्षेत्रीय समृद्धि

मूल योग्यताओं की ओर ध्यान देना क्षेत्रीय समृद्धि के लिए आवश्यक है।

गाँव

स्वच्छ और हरे गाँवों से ही विकसित गाँव का रास्ता निकलता है। विकसित गाँवों से ही विकसित भारत बनता है।

भारत के सभी 6,00,000 गाँवों को अपना विकास करने का अधिकार मिलना चाहिए और इनको आपस में और शहरी समाज से अच्छी तरह से जुड़ा होना चाहिए ।

भारत की शक्ति और संपत्ति गाँवों में ही है।

अगर आप कुछ नहीं करते तो कोई समस्या नहीं होगी। अगर आप कुछ करते हैं तो समस्या होगी। और विचार यह होना चाहिए कि समस्या से पार पाया जाए, न कि उसे अपने ऊपर हावी होने दिया जाए।

आज के गाँवों की बुनियादी आवश्यकताएँ पानी, बिजली, सड़क, स्वच्छता और अस्पताल, शिक्षा एवं रोजगार-सृजन हैं।

गौरव

अपने राष्ट्र की रक्षा करना हमारा गौरव है।

ग्राम पंचायत की शपथ

ग्राम पंचायत को स्वच्छ और प्रदूषण-मुक्त बनाने के लिए स्वच्छता को महत्त्व दीजिए।

अपने गाँववालों के लिए स्वच्छ और साफ पेयजल की व्यवस्था कीजिए।

हरेक ग्राम पंचायत को समृद्ध और आत्मनिर्भर बनाने के लिए अधोसंरचना से जुड़ी आधुनिक सुविधाएँ उपलब्ध कराइए।

अपने स्तर पर पूरी कोशिश कीजिए कि हर ग्रामीण साक्षर बन जाए। इसके अलावा, हर लड़के-लड़की को प्रतिदिन स्कूल जाने को प्रेरित कीजिए ।

गाँवों को जल प्रदूषण की बुराई से दूर रखिए । गंदे पानी का सही तरीके से निपटान किया जाना चाहिए।

हरेक ग्राम पंचायत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए अपने कर्तव्य को पूरी पारदर्शिता और ईमानदारी से कीजिए।

हरेक ग्राम पंचायत को अपराध-मुक्त बनाइए। ग्राम पंचायतों के झगड़े उचित तरीके से निपटाइए।

चिंता

न तो चिंता कीजिए और न ही चिढिए, न कातर बनिए। अवसरों की तो शुरुआत हुई है। सर्वोत्तम कार्य अभी शुरू नहीं हुए हैं, सर्वोत्तम कार्य अभी नहीं किए गए हैं।

चेतना

चेतना बनाई नहीं जाती है, यह तो शाश्वत है, सतत है। यह वास्तव में निरंतरता है। यह मन से परे हैं, जो निस्संदेह हमारा मस्तिष्क ही है।

छाया

अवधारणा और रचना के बीच, भावना और प्रतिक्रिया के बीच छाया होती है।

छोटे बच्चे

मैं छोटे बच्चों को फिर से विश्वास दिलाना चाहता हूँ कि उन्हें अपने जीवन में जो भी कष्ट मिलेंगे, वे उन्हें संपूर्ण व्यक्ति बनाने में मदद करेंगे और उनसे उन्हें यह समझने में मदद मिलेगी कि वे कौन हैं और किससे उनका संबंध है ।

जवानों की शपथ

महान् परंपरावाली भारतीय सेना का अंग होने पर मुझे गर्व है।

मैं हमेशा जीतूंगा और जीतूंगा और अपने राष्ट्र को विजय दिलाऊँगा।

मैं हमेशा उपयोगी नागरिक रहूँगा और जब कभी जरूरत पड़ेगी, मैं अपने देशवासियों की सहायता करूँगा।

मैं अपने देश और अपने लोगों की सफलता गर्व से मनाऊँगा।

मेरा झंडा मेरा जीवन है।

जीवन

जीवन कठिन खेल है। व्यक्ति होने के अपने जन्मसिद्ध अधिकार को कायम रखकर ही आप इसमें जीत सकते हैं।

जीवन में कई शक्तियाँ आपके पक्ष में और विपक्ष में काम कर रही हैं। हमें हानिकारक शक्तियों को छोड़कर लाभदायक शक्तियों की पहचान करना आवश्यक है और दोनों में से सही का चयन समझदारीपूर्वक करना चाहिए ।

हर किसी का जीवन इतिहास का एक पृष्ठ है। इस बात से कोई अंतर नहीं पड़ता कि वह किस पद पर है या क्या काम करता है।

परेशानी यह है कि हम जीवन से जूझते समय उसका विश्लेषण बहुत ही कम करते हैं। लोग अपनी असफलताओं को कारण और प्रभाव के रूप में विभाजित करते हैं, लेकिन ऐसा बहुत कम होता है कि वे उनसे निपटें और अनुभव हासिल करें, जिससे कि उन असफलताओं का दुहराव न हो।

यह मुझे विश्वास है कि कठिनाइयों और समस्याओं के जरिए ईश्वर हमें विकास का अवसर देता है। तो, जब आपकी आशाएँ एवं सपने और लक्ष्य टूटने लगें तो उनके टुकड़ों में खोजो, आपको उन्हीं टुकड़ों में पड़ा सुनहरा अवसर मिलेगा।

जीवन का उद्देश्य

समूचे ब्रह्मांड में ऐसा कुछ भी नहीं है, जिसका कोई उद्देश्य न हो। उद्देश्य मानव जीवन का केंद्र-बिंदु है। मानव के अस्तित्व का उद्देश्य सिर्फ भोजन और ऐंद्रिक सुख नहीं है ।

जीवन का तरीका

हमने किसी पर आक्रमण नहीं किया है। हमने किसी को जीता नहीं है। हमने लोगों की जमीन, संस्कृति, इतिहास पर कब्जा नहीं किया है और किसी पर अपने जीवन जीने का तरीका थोपने की कोशिश नहीं की है।

जीवन के तीन स्तंभ

सामाजिक सदस्य के लिए तीन प्रमुख कारक होते हैं, जो उन्हें अलग बनाते हैं। वे हैं-पिता, माता और शिक्षक।

जीवन-दर्शन

दीप अलग-अलग हैं,

लेकिन रोशनी एक है।

दुनिया की खुशियाँ तुम दुनिया को लौटाते हो,

तुम अंतरतम में बने रहते हो।

जीवन विद्या

जीवन विद्या एक ‘सिखाने योग्य मानवीय मूल्याधारित कौशल’ है, जो कि व्यक्ति के मन में, परिवारों के अंदर, संगठनों के अंदर और सार्वजनिक जीवन में निहित संघर्षों से निपटने के काम आता है।

यह अपने आप में और समूचे अस्तित्व में सद्भाव को समझनेवाले आत्मज्ञान के जरिए मानवीय व्यवहार की अस्पष्टता और अनिश्चितता के प्रति सहिष्णुता का विकास करता है। जीवन विद्या की समझदारी भरी समझ मानव की चेतना में पर्याप्त परिवर्तन ला सकती है।

जीवन विद्या संघर्ष-मुक्त, सुखी जीवन के विकास के लिए कम उम्र में शिक्षा की नींव रख सकती है, जिसकी परिणति देने’ की भावना के रूप में होती है।

जिले

जिलों को स्वच्छ बनाने के लिए पंचायतों को स्वच्छ बनाइए।

ज्ञान

उद्यम के बिना ज्ञान अनुपयोगी और अप्रासंगिक है। उद्यम के साथ ज्ञान से समृद्धि आती है।

सभी के विचार सुनने से ज्ञान को बढ़ावा मिलता है।

इस ग्रह पर शायद ज्ञात ब्रह्मांड में मानव ही एकमात्र ऐसा प्राणी है, जो ज्ञान की खोज और उसकी वृद्धि में लगा रहता है।

सम्मिश्रित ज्ञान बेहतर ज्ञान होता है।

ज्ञान क्रांति ही भारत को विकसित राष्ट्र बनाने के लिए नींव होगी।

ज्ञान का प्रबंधन व्यक्तिगत प्रभाव-क्षेत्र से बाहर आना ही चाहिए और एक-दूसरे से जुड़े समूहों के प्रभाव -क्षेत्र में जाना चाहिए।

मैं विकसित भारत के स्वप्न को साकार करने के लिए ज्ञान की ज्योति जलाए रखूँगा।

सीखने से सृजनात्मकता हासिल होती है, रचनात्मकता से विचार पैदा होते हैं, विचारों से ज्ञान हासिल होता है, ज्ञान आपको महान् बनाता है।

विचारशीलता आपकी पूँजीगत संपत्ति होनी चाहिए । इससे कोई फर्क नहीं पड़ना चाहिए कि आपके जीवन में क्या उतार-चढ़ाव आते हैं।

टिकाऊ विकास

दुनिया भर का राजनीतिक नेतृत्व टिकाऊपन की चुनौतियों के उभरने से निपटने में अक्षम है।

अगर उच्चतर शिक्षा भविष्य के नेताओं की प्राथमिक पाठशाला है तो टिकाऊ भविष्य की रचना में इस क्षेत्र की बड़ी भारी जिम्मेदारी बनती है।

हर संकाय के स्नातकों को टिकाऊपन के बारे में ठोस कार्य साधक जानकारी होनी चाहिए।

डॉक्टर

डॉक्टर मुझे दर्द-निवारक के रूप में दिखते हैं।

जिस तरह से हम दीप जलाते हैं, उसी तरह से हमें दुर्घटनाओं से प्रभावितों और पीडितों तक मदद पहुँचाने के लिए हर संभव तरीके से काम करना चाहिए और योगदान देना चाहिए।

डॉ. कलाम द्वारा दिलाई गईं तमाम शपथें

भारत के नागरिकों की शपथ

बच्चे हमारी बहुमूल्य दौलत हैं।

अपने राष्ट्र के विकास के लिए हमें हर लड़के-लड़की को बिना किसी भेदभाव के समान शिक्षा मुहैया करानी चाहिए।

हमें अपनी मेहनत की कमाई जुआ और शराब में नहीं उड़ानी चाहिए।

स्वास्थ्य और समृद्धि के लिए हमें परिवार छोटे रखने चाहिए।

हमें अपने बच्चों को शिक्षा के महत्त्व के बारे में सिखाना चाहिए। शिक्षा से ही ज्ञान आता है और ज्ञान से ही बच्चे अपने मिशन में सफल होते हैं।

हम सभी को जंगलों की रक्षा करनी चाहिए और प्रदूषण से मुक्ति पानी चाहिए।

हम अपने-अपने घरों या आसपास कम-से-कम पाँच पौधे लगाएँगे और जल-संचयन के जरिए हम उन्हें बारिश के पानी से सींचेंगे।

हम भारत के विकास और समृद्धि के लिए काम करेंगे।

अब से हम कम-से-कम पाँच ऐसे लोगों को पढ़ाएँगे, जो लिख-पढ़ नहीं सकते।

जल हमारी संपत्ति है। हम एक-एक बूंद पानी बचाएँगे। हम अपने गाँव या इलाके में ग्रामीण जनों के सहयोग से कम-से-कम एक तालाब बनाएँगे।

पर्यटक हमारे अतिथि होते हैं। पर्यटकों को यहाँ का प्रवास सुखद और उद्देश्यपूर्ण बनाने के लिए हम उन्हें हर सहायता उपलब्ध कराएँगे।

हम भारतीय विरासत और संस्कृति से जुड़ा न्यायप्रिय जीवन जिएंगे और अपने बच्चों के लिए आदर्श बनेंगे।

डॉ. रमन्ना

बुलंद और बहुआयामी व्यक्तित्व के डॉ. रमन्ना देश के विकास के लिए हमेशा सेवाभाव से किसी भी रूप में काम करने को तैयार रहते थे। केंद्रीय मंत्री और सांसद के रूप में उनकी भूमिका इस बात का प्रमाण है।

त्रुटियाँ

अपने जीवन-स्तर को बेहतर बनाने के लिए हमें अपनी त्रुटियों से सीखना जरूरी है।

दल

दल से परिवेश की रचना होती है; परिवेश से दल को प्रेरणा मिलती है।

दवाइयाँ

दवाइयों का क्षेत्र सबसे ज्यादा चुनौती भरा है, जहाँ मानव के दुःख-दर्द का निवारण मानव की सर्वोत्तम बुद्धिमानी और

सावधानी से किया जाता है। हमारा मिशन मुसकराहट को विश्वास प्रदान करना है।

दान

मेरे साथियो, देने से आपके मन और आत्मा को प्रसन्नता मिलती है।

आपके पास देने के लिए सबकुछ है;

अगर आपके पास ज्ञान है तो इसे बाँटिए,

अगर आपके पास संसाधन हैं तो जरूरतमंदों को उनका इस्तेमाल करने दीजिए;

अपने दिल और दिमाग का इस्तेमाल कीजिए,

पीडितों का दर्द हरने के लिए;

और दुःखी दिलों को प्रसन्न करने के लिए,

देने से आपको प्रसन्नता मिलती है;

सर्वशक्तिमान आपको आशीर्वाद दे।

दिशा-निर्देशन करनेवाली आत्माएँ

मेरे माता-पिता और शिक्षकों के अलावा मुझे प्रभावित और प्रेरित करनेवाले पाँच लोग हैं और वे सभी वैज्ञानिक हैं। मैं उन्हें दिशा-निर्देशन करनेवाली आत्माएँ कहता हूँ। वे हैं-प्रो.विक्रम साराभाई, प्रो. सतीश धवन, प्रो. ब्रह्मप्रकाश, प्रो. एम.जी.के. मेनन और डॉ. राजा रमन्ना ।

दृढ़ निश्चय

अगर किसी लक्ष्य को हासिल करने का दृढ़ संकल्प है तो व्यक्ति को सफलता जरूर मिलेगी।

दृढ़ निश्चय के साथ किए गए प्रयासों से आप पहले से मान्य धारणाओं के विपरीत हमेशा सफलता हासिल कर सकते हैं।

हमें कभी उम्मीद नहीं छोड़नी चाहिए और समस्याओं के आगे कभी हार नहीं माननी चाहिए।

हर कठिन काम को संभव करके दिखाइए।

दृष्टिबाधित

दृष्टि-बाधित लोगों के जीवन को उत्पादक बनाना मानव संसाधनों के क्षेत्र में महान् योगदान होगा।

देश

कोई देश उतना ही अच्छा होता है जितने कि अच्छे उसके नागरिक हैं; उनकी प्रकृति, उनके मूल्य और उनके लक्षण देश के स्वरूप में झलकते हैं।

देश के युवा

हमारे युवाओं के पास सपने होने चाहिए और उन्हें भारत को विकसित राष्ट्र बनाने के लिए काम करना चाहिए।

अपने जीवन में लक्ष्य निर्धारित करके, मुसीबतों से लड़कर और उत्कृष्टता हासिल करके युवा इस मिशन में योगदान कर सकते हैं।

विद्यार्थियों को नैतिक मूल्य आत्मसात् करने चाहिए। उन्हें उद्यमी बनने की आकांक्षा करनी चाहिए । छुट्टियों में वे वंचित बच्चों को और बिना पढ़े-लिखों को पढ़ा सकते हैं। वे पौधे लगा सकते हैं और पर्यावरणीय संतुलन सुधारने में मदद कर सकते हैं।

धर्म

किसी भी धर्म में अपने अस्तित्व या बढ़ावे के लिए अन्य लोगों की हत्याओं का निर्देश नहीं दिया गया है।

नर्सिंग

नर्सिंग एक बहुत ही सुंदर मिशन है।

नर्से

नर्से मरीजों के परिवारों के लिए शिक्षिकाएँ होती हैं।

नवीनता

नवीनता के जरिए ही ज्ञान को धन में बदला जा सकता है।

नवीनता पूँजी है।

नवीनता अरैखिक विकास का प्रमुख साधन है।

नशे के दुष्परिणाम

अभिभावकों और शिक्षकों को निरंतर अपने बच्चों के साथ रहना चाहिए और उन्हें नशे के दुष्परिणामों के बारे में बताना चाहिए। कानून लागू करनेवाली संस्थाओं को भी यह सुनिश्चित करना चाहिए कि नशे की सामग्री बेचनेवाले लोग स्कूल-कॉलेजों के इर्द-गिर्द न फटकने पाएँ। इसके अतिरिक्त अभिभावकों को अपने बच्चों को हद से ज्यादा जेब-खर्च नहीं देना चाहिए।

नागरिकता

प्रबुद्ध नागरिकता के तीन घटक होते हैं-मूल्य प्रणाली के साथ शिक्षा, आध्यात्मिक बल में बदलता धर्म और विकास के जरिए आर्थिक समृद्धि की रचना।

हर नागरिक को गरिमा के साथ जीवन जीने का अधिकार है; हर नागरिक को प्रतिष्ठा की अभिलाषा रखने का अधिकार है।

निर्धनता

जब तक भारत के गरीबी रेखा से नीचे रहनेवाले 26 करोड़ लोगों के चेहरों पर मुसकान नहीं आती, तब तक मैं नहीं थकूँगा।

नृत्य और संगीत

नृत्य और संगीत आपको एक अलग स्तर तक उठाते हैं और प्रसन्नता तथा शांति का झोंका प्रदान करते हैं।

नृत्य और संगीत को विश्व-शांति सुनिश्चित करने के साधन के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। यह लोगों को जोड़नेवाली शक्ति के रूप में काम करता है।

नेता

नेता भविष्य में दूर तक देखता है।

नेता कार्य करनेवालों को सफलता का श्रेय देता है और असफलता का दोष अपने ऊपर लेता है।

गुणवान् नेता चुंबक की तरह होता है, जो सर्वोत्तम लोगों को अपनी ओर खींचता है।

राष्ट्र में रचनात्मक नेताओं का अनुपात जितना अधिक होगा, ‘विकसित भारत’ जैसे लक्ष्य को हासिल करने की संभावना उतनी ही अधिक होगी।

जब कोई नेता लोगों को सशक्त करता है तो उसी तरह के और नेता तैयार होते हैं, जो स्वयं ही राष्ट्र की तकदीर बदल सकते हैं।

मेरे देश के नेताओ, कृपया ज्यादा लोगों से मिलिए और उनकी मदद कीजिए; लेकिन सबसे पहले उन पर ध्यान दीजिए और उन्हें मुख्य धारा में लाइए, जिन्हें आपकी मदद की सबसे ज्यादा आवश्यकता है।

उत्पादनशील नेता को भरती करने में बेहद सक्षम होना चाहिए। उसे संगठन में हमेशा नए लोगों को शामिल करते रहना चाहिए। उसे समस्याओं से निपटने में और नए विचार अपनाने में दक्ष होना चाहिए।

प्रबुद्ध आध्यात्मिक और वैज्ञानिक नेता मानव जीवन को पवित्र बनाने के लिए प्रयासरत रहते हैं।

नेतृत्व

रचनात्मक नेतृत्व कमांडर की भूमिका से प्रशिक्षक की भूमिका में, मैनेजर से गुरु में, निर्देशक से प्रतिनिधि में और आदर चाहनेवाले से आदर अर्जित करनेवाले की भूमिकाओं में तब्दील हो रहा है।

नैतिक नेतृत्व को लोगों की आवश्यकता सही काम करने के लिए होती है, जबकि उद्यमशील नेतृत्व को लोगों की आवश्यकता सही काम करने की आदत बनाने के लिए होती है।

प्रबुद्ध नेतृत्व का उद्देश्य सशक्तीकरण होता है।

समान कमियोंवाले अन्य सदस्यों को ज्ञान बाँटिए और अक्षमताओं की वजह से होनेवाली समस्याओं से उबरने में मदद कीजिए।

प्रभावशाली नेतृत्व अपने अनुयायियों को भागीदारी के विचार से जोड़ता है, जो कि संगठन और व्यापक रूप से समाज को बेहतर बनाता है। अच्छे नेतृत्व को ‘सही’ मूल्य देना चाहिए।

यह सिर्फ सत्य-निष्ठा और विश्वास से ही हो सकता है। इस प्रकार, परिवर्तनकारी नेतृत्व लेन-देनवाले नेतृत्व से बिलकुल अलग होता है, जो कुछ भी करके शक्ति का निर्माण करता है, जिसके नतीजे में अनुयायियों की संख्या बढ़ती है।

आदर्श नेतृत्व के अनुसार नेता वह है, जो अपने संगठन को सकारात्मक दिशा में आगे बढ़ाता है। सही परिस्थितियों में, पर्याप्त पूँजी के साथ, परिणाम न केवल संगठन विशेष के लिए अच्छे हों बल्कि व्यापक रूप में समाज के लिए भी अच्छे हों।

नैनोटेक्नोलॉजी

किसी पदार्थ को परमाणु और अणु के स्तर पर सुनियोजित करने और उसके गुणों का इस्तेमाल करने के विज्ञान, नैनोटेक्नोलॉजी है और यह विज्ञान और इंजीनियरिंग की बहुसंख्य विधाओं को व्यापक उपयोगों से एकीकृत करता है। इसका इस्तेमाल सावधानी से करने की आवश्यकता है।

स्मार्ट सामग्री का विकास ही नैनोटेक्नोलॉजी का उपयोग है। इस शब्द का आशय कोई सामान नैनोमीटर के पैमाने पर डिजाइन करने या तैयार करने से है, जो किसी विशिष्ट कार्य के लिए बनाया गया हो।

APJ Abdul Kalam quotes in Hindi for Students- पढ़ना

प्रतिदिन एक घंटे विशेष तौर पर किताबें पढ़ने में लगाइए और कुछ ही वर्षों में आप ज्ञान के भंडार बन जाएँगे। 1.

पत्रकारों के लिए ध्यान योग्य क्षेत्र समाचारों की सटीक रिपोटिंग।

ग्रामीण परिवेश के लिए वास्तविक घटनाओं की तत्काल रिपोर्टिंग, जैसे मछुआरों के लिए मौसम की खबरें या बाजार में सही प्रकृति के बीजों की उपलब्धता।

किसानों, मछुआरों, दस्तकारों की जीवन-शैली और उनकी सामयिक आवश्यकताओं, सफलताओं एवं समस्याओं का वर्णन करना।

पंचायतों का प्रदर्शन और उनकी, खासकर पंचायत की, महिला नेताओं की सफलताओं की कहानियाँ प्रसारित करना।

क्षेत्र की उन्नति और समस्याएँ- सड़कों की हालत, जलाशयों की स्थिति और परिवहन के साधन।

पद-चिह्न

अगर आप समय की रेत पर अपने पद-चिह्न छोड़ना चाहते हैं तो अपने पैरों को घसीटिए मत।

परिवर्तन

परिवर्तन निर्णायक होता है। इससे नए विचार सामने आते हैं; नए विचारों से ही नए कार्यों का रास्ता प्रशस्त होता है।

पर्यावरण

स्वच्छ पर्यावरण में ही स्वस्थ मस्तिष्क और स्वस्थ शरीर का विकास होता है।

पसीना

हमारा पसीना ही विकासशील भारत को विकसित भारत के रूप में बदलेगा।

पीड़ा

पीड़ा ही सफलता का मूल तत्त्व है।

पी.यू.आर.ए. (ग्रामीण इलाकों में शहरी सुविधाएं मुहैया कराना)

पी.यू.आर.ए. रोजगार-सृजन को ध्यान में रखकर बनाई गई एक ऐसी एकीकृत योजना है, जिसमें गाँवों के एक समूह की जनता को आवास, स्वास्थ्य-सुविधा, शिक्षा, कौशल-विकास, भौतिक एवं इलेक्ट्रॉनिक संपर्क और एकीकृत तरीके से मार्केटिंग मुहैया कराई जाती है।

पुनरावृत्ति

जो कई दशकों से होता आ रहा है, उसकी उसी रूप में पुनरावृत्ति आगे बढ़ने का रास्ता नहीं है।

पुलिसकर्मियों की शपथ

मुझे उच्च परंपरावाले पुलिस बल का सदस्य होने पर गर्व है।

मैं हमेशा नागरिकों के प्रति मैत्रीपूर्ण रवैया रखूँगा और हर जगह शांति को बढ़ावा दूंगा।

मैं कानून का उल्लंघन करनेवालों के लिए बिजली की चमक और बादलों की गरज के समान खतरा बनूँगा।

मैं बुजुर्गों, महिलाओं और बच्चों की हर तरह के अपराधों से रक्षा करूँगा।

मैं हर तरह के भ्रष्टाचार से मुक्त ईमानदार जीवन जिऊँगा और दूसरों के लिए अनुकरणीय उदाहरण पेश करूँगा।

मेरा राष्ट्र ही मेरा जीवन है।

पुस्तक

एक अच्छी पुस्तक महान् ज्ञान का स्रोत है और कई पीढियों के लिए धन का काम करती है।

कोई अच्छी पुस्तक मिलना और उसे सहेजकर रखना जीवन को हमेशा के लिए समृद्ध करता है।

मेरे जीवन में पाँच किताबें मेरे हृदय के बहुत करीब रही हैं। मैं उन्हें दिल में सँजोए रहता हूँ। वे हैं-‘मैन द अननोन’ (अज्ञात व्यक्ति), ‘तिरुक्कुरल’, ‘लाइट फ्रॉम मेनी लैप्स’, ‘पवित्र कुरान’ और ‘श्रीमद्भगवद्गीता’।

पुस्तकें हमारी शाश्वत साथी हैं। पुस्तकों ने ही मुझे स्वप्न दिए। स्वप्न ही उद्देश्यों के रूप में सामने आए। पुस्तकों ने मुझे अपने उद्देश्य पूरा करने का विश्वास दिया। असफलताओं के समय पुस्तकों ने मुझे हिम्मत दी। वे मेरे लिए फरिश्तों के समान हैं और वे कई बार मेरे दिल को छूती हैं।

पेयजल

स्वच्छ पेयजल पाने के चार तरीके हैं-पहला जलापूर्ति का पुनर्वितरण; दूसरा जल की बचत करना और उसकी माँग को कम करना; तीसरा इस्तेमाल किए गए पानी को रिसाइकिल करना और चौथा ताजे जल के नए स्रोतों को तलाश करना।

प्रकृति

प्रकृति कभी जल्दबाजी में नहीं रहती। यह लाखों सालों से संचालित होती रहती है। 80 या 100 साल का मानव जीवन पृथ्वी के कार्य की तुलना में एक बहुत सूक्ष्म हिस्सा है। अगर जाग्रतावस्था में रहे या सोता रहे तो मानव का जीवन बेकार ही चला जाएगा।

प्रकृति से प्रेम कीजिए और इससे जुड़ी हर चीज की देखभाल कीजिए, आपको हर जगह ईश्वर मिलेगा ।

सामाजिक या राजनीतिक सभी व्यवस्थाओं का आधार व्यक्तियों की भलाई पर ही निर्भर है। कोई राष्ट्र संसद् के कार्यों से नहीं, बल्कि अपने लोगों के महान् या श्रेष्ठ होने से महान् या श्रेष्ठ बनता है।

APJ Abdul Kalam biography in Hindi

Read More