What is Domain Name in Hindi पूरी जानकारी हिंदी में 2020

अगर  सर्च कर  रहे है की what is domain name in Hindi ?तो आप बिलकुल सही जगह पे है आपको मैं पूरी डिटेल में जानकारी दूंगा what is domain name in Hindi?


what is domain name in Hindi

दोस्तों जब आप वर्डप्रेस या ब्लॉगर पे अपनी वेबसाइट बनाने के बारे में सोचते है तो सब से पहले जो जीज आती है वो है domain(नाम)  अब बहुत सरे लोगों को नहीं पता होता है की domain नाम क्या होता है what is domain name in Hindi तो वही में आपको बताने वाला हु की क्या है domain (नाम). दोस्तों domain आपके वेबसाइट का नाम होता है जैसे मेरे वेबसाइट का नाम है www.hindimein.in तो ये जो नाम है,


 इसे हम लोग web address कहते है तो यही इस वेबसाइट का domain नाम है लेकिन कहानी यहाँ ख़तम नहीं होती है domain name के बारे में बहुत सारी बाते आपको जननी जरुरी है दोस्तों जिस सिस्टम से आपके domain name को ऑपरेट किया जाता है या चलाया जाता है


 उसे Domain Name System कहते है।  इसे शार्ट में DNS भी कहते है यही आपके domain से रिलेटेड सारी जानकारिया store रहती है।  जैसे उसका IP address और उसे रिलेटेड और भी जानकारियां तो आप ये  भी जानना चाहेंगे की domain नाम जरुरी होता है


 और क्या इसके बिना भी किसे वेबसाइट या वेब पेज पे पहुंचा जा सकता है आपकी जानकारी के लिए में बतादू शुरुआती दौर में web address न हो कर यानि www.hindimein.in न हो कर IP address  हुआ करते थे  IP address का अर्थ है Internet Protocol Address अब किसी भी वेबसाइट या web page जो भी चीजे इंटरनेट से जूरी होगी आपका computer हो या आपका website हो हर चीज के लिए IP address होता है। 


 IP address  बिलकुल उसी तरह से होता है जैसे आपके शहर में आपका Pincode number होता है अब आपकी जा डाक सेवा है वो आपके पिनकोड के आधार पे काम करती है।  IP address उधारन के लिए आपके पिनकोड जैसा  होता है 


अब आप खुद ही सोच लीजिए आप 20 - 25 शहरों के नाम ज्यादा आसानी याद रख पाएंगे या उन शहरों के Pincode no. को उन शहरों के नामो से relate कर पाएंगे जी हां आप उनके नाम ज्यादा आसानी से याद रख पाएंगे अगर मैं कहु की मैं 110001 में रहता हु तो आपको ज्यादा सुने  में अच्छा लगेगा या मैं  कहु की मैं  Delhi में  रहता हूँ तो ज्यादा आपको सुने में अच्छा लगेगा जी है आपको शहर का नाम ज्यादा अच्छे से याद होगा तो यही समस्या थी IP Address को याद रखने में इसी लिए ईजाद किया गया domain name को।  


Domain name से सीधे सीधे किसे भी domain name  को बहुत ही अच्छे से याद रख सकते थे, लेकिन IP Address ख़तम नहीं हुआ अभी भी हर website  का  हर उस device का जो इंटरनेट से network से connected है उसका एक IP Address होता है  और IP adrss इस लिए होता है जो आपका कंप्यूटर आपका जो सिस्टम है वो किसी भी नाम को नहीं पढ़ पाता है वो सिर्फ IP adrss को पढ़ पाता है। 


 इस काम में उसकी सहायता करता है domain name service यानि DNS. DNS का यही काम होता है जब आप किसी  website का नाम अपने web browse में type करे है तो वो उसको IP addres में बदल देता है और आपके domain name के  Name server के पास पहुँचता है। 


ये name server क्या होते है ? ये name  server वही होते है जहा से आप domain name खरीदते है  आपकी damain name की सारी information इन name server के पास होती है तो जब जो कोई भी user web browser में किसी site  का नाम type करता है तो DNS उसको IP address में बदल देता है और name server के पास वो information भेजता है name server को ये निर्देश देता है की वो website से जूरी सारी जानकरी web pages user के पास पंहुचा दे।


 अब domain name की कुछ हिसे भी होते है उद्धरण के लिए में ले लेता हु https://www.hindimein.in आप देखेंगे की सबसे आगे यहाँ पे https लगा हुआ है अब ये https क्या होता है मैं आपको ये बतादू की internet पे हर पेज के लिए एक protocol होता है , protocol  rules का एक bunddle होता है जिसको हर web address को follow करना होता है अब ये जो protocol है वो दो तरह का होता है 


पहला है http यानी  की Hypertext Transfer Protocol और अब नई website पे लिखा होता है https उसका मतलब होता है Hypertext Transfer Protocol Secure अब नए जमाने में क्या हो गया है की hacker बहुत ज्यादा बढ़ गए है आपकी information को चुरा लेते है तो यहाँ पे ये जो protocol है https protocol है ,


वो users को secure रखता है user की information को secure रखने में सहायता करता है तो आपको किसी भी website पर https लिखा दिखाई दे वो website  secure  है अब आने वही time  में सबको  https  लेना जरुरी है और ये आपको मिलता है SSL certificate से। 


इसके बाद आपको वहां  पे दिखाई देगा www तो www  का अर्थ होता है WOrld  Wide Web ये आपके website  की URl  का sub domain होता है इसके बाद आपको दिखाई देगा hindimein.com ये जो मेरा domain name  है ये भी दो हिसो में बटा  रहता है पहला hindimein  जो मेरे वेबसाइट का नाम है और दूसरा  .in  जो उसका extension है,


 अब ये दोनों मिलके एक unique  नाम बनाते है अगर आपने एक नाम से domain register  करा लिया जैसे hindimein  से domain name  register  करा लिया है तो कोई भी व्यक्ति उस नाम से register  नहीं करा सकता लेकिन आप यहाँ पे extension  बदल कर नाम रजिस्टर करा सकते है।अब इन एक्सटेंशन की भी अपने अपने प्रकार  है अब ये एक्सटेंशन दो प्रकार के होते है पहला है 


Top  Level Domain in Hindi 


टॉप लेवल domain में .com .org .edu  .gov  अगर किसी को commercial website  बनानी है तो वो .com को select  करेगा , अगर किसी को educstional  website  बनानी होतो वो .edu को select  करेगा और अगर गवर्नमेंट की website  है तो .gov एक्सटेंशन होगा। 


Top Level Country Domain name in Hindi


 अब इसके अलावा country के भी top level  होते है जिसको आपको देखते ही पता चल जाता है की वो किस देश की है जैसे की आपने देखा होगा की जब आप google.com को इंडिया में खोलते है तो आपको  वहा google.in लिखता है लेकिन आप अगर वही website अमेरिका में खोली जाए तो google.com वही फर्क है  कोड टॉप लेवल डोमै में।  अगर आप India  में रहते है और कोई वेबसाइट बनाते है तो वहां का टॉप लेवल domain  .in होगा जैसे की मेरा है hindimein.in 


तो मैं आशा करता हु की आप समझ गए होंगे domain name (what is domian name in Hindi) के बारे में की ये क्या होता है और आपके website  के लिए क्यों जरुरी है। 


What is Domain Name in Hindi Video:-


Before buying any domain name in Hindi 


1. Domain name  खरीदने से पहले आपको ध्यान  देना चाइये की आप जो भी domain ले रहे है वो याद करने में आसान हो domain name बनाया ही इसी लिए है की लोग उसे आसानी से याद रख सके


2. वो छोटा हो वो 2 words का भी हो सकता है 3 words का भी हो सकता है लेकिन उसे ज्यादा words का domain  नाम select कर लेते है तो हो सकता है User उसे याद ही न रख पाए ।


३. वो थोड़ा unique  हो जिसे की लोगो को वो attract कर सके तो आप domain name  खरीदने जा रहे है तो इन बातो का ध्यान जरूर रखे।

 



Post a Comment

0 Comments