Top 10 Hindi Funny Story For Kids बच्चों के लिए मजेदार कहानी

Hindi Funny Story:- Here I'm sharing the top ten Hindi Funny StoryFor Kids which is very valuable and teaches your kids life lessons, which help your children to understand the people & world that's why I'm sharing with you.

Top 10 Hindi Funny Story For Kids

यहां मैं बच्चों के लिए हिंदी में नैतिक के लिए शीर्ष कहानी साझा कर रहा हूं जो बहुत मूल्यवान हैं और अपने बच्चों को जीवन के सबक सिखाते हैं, जो आपके बच्चों को लोगों और दुनिया को समझने में मदद करते हैं इसलिए मैं आपके साथ हिंदी में नैतिक कहानी साझा कर रहा हूं।

Top 10 Hindi Funny Story For Kids

कंजूस व्यक्ति
आस्था
घमंडी पेड़
पहेली
चतुर राजा
जैसे को तैसा
खुजली
आलसी चिड़िया
चालाकी नहीं चली
चतुर मेमना



1. कंजूस व्यक्ति New Type Hindi Funny Story


New Type Hindi Funny Story

एक दिन एक कंजूस व्यक्ति के दोस्त ने अपने मित्र की कंजूसी की आदत छुड़ाने की सोची।

वह उसे बाजार ले गया और बोला, "प्रिय मित्र, तुम क्या खाना पसंद करोगे?" कंजूस बोला, "भूख लगी है, चलो भोजन किया जाए।" वे एक होटल में जाकर।

कंजूस के दोस्त ने होटल मालिक से पूछा, "भोजन कैसा है?" होटल मालिक ने कहा, "मिठाई की तरह स्वादिष्ट!" कंजूस का दोस्त बोला, "क्यों न भोजन के स्थान पर कुछ मीठा खाया जाए।"

फिर वे एक शहद बेचने वाले की दुकान पर गए और पूछा."शहद कैसा है?" शहद बेचने वाला बोला, “एकदम शुद्ध बिल्कुल पानी की तरह।'"

कंजूस का दोस्त बोला, "अरे, फिर यूँ ही पैसे क्यों व्यर्थ करें। चलो, घर चलते हैं। मैं तुम्हें घर पर शुद्ध शहद के रूप में पानी दूंगा।" फिर घर पहुँचकर कंजूस के दोस्त ने उसे पानी से भरा एक बर्तन थमा दिया।

कंजूस समझ गया कि उसके दोस्त ने उसे सबक सिखाने के लिए ही ऐसा किया है। इसलिए उसने उस दिन से कंजूसी छोड़ दी।


2. आस्था Latest Hindi Funny Story


Latest Hindi Funny Story

धर्मदास एक मेहनती एवं ईश्वर में आस्था रखने वाला व्यक्ति था। अपनी सफलता के लिए वह हमेशा ईश्वर को धन्यवाद दिया करता था। धीरे-धीरे कठिन परिश्रम कर वह एक सफल व्यवसायी बन गया।

लेकिन अब उसे अपने ऊपर घमंड हो गया। वह सोचता कि वह सिर्फ अपने कठिन परिश्रम से ही सफल हुआ है, इसमें भगवान का कोई हाथ नहीं है।

इसलिए उसकी भगवान में आस्था कम हो गई और उसने भगवान की पूजा करनी छोड़ दी। एक बार लोगों के बीच भगवान को लेकर बहस होने लगी.

तो धर्मदास बोला,"भगवान कौन है? वह है ही नहीं! देखो मैं अपने कठिन परिश्रम के कारण ही आज सफल हुआ हूँ। और यदि वास्तव में भगवान शक्तिशाली है, तो वह मुझे दो मिनट में मारकर दिखाए।

मैं उसे चुनौती देता हूँ।" दो मिनट बाद धर्मदास स्वयं को जिंदा पाकर भगवान के ऊपर हँसने लगा। तब एक बूढ़ा बोला,"यदि तुम्हारा बेटा तुमसे ऐसा करने को कहता तो क्या तुम उसे मार डालते?

भगवान हमारे पिता के समान हैं। वह कभी तुम्हें हानि नहीं पहुंचा सकते। तुम्हारी सफलता में भगवान का ही आशीर्वाद है।" धर्मदास को अपनी गलती का अहसास हुआ। उसने घमंड करना छोड़ दिया।

और वह एक बार फिर ईश्वर में विश्वास करने लगा।


3. घमंडी पेड़ Amazing Funny Hindi Story


Amazing Funny Hindi Story

सड़क के किनारे एक बरगद और एक आम का पेड़ था। आम के पेड़ पर रसीले एवं मीठे आम लगते थे।

सभी लोग उसकी छाँव में विश्राम करने के साथ-साथ उसके मीठे फलों का भी आनंद लेते थे। बूढ़े बरगद की तरफ कोई भी ध्यान नहीं देता था।

धीरे-धीरे उस आम के पेड़ को अपने ऊपर बड़ा घमंड हो गया। वह बरगद के पेड़ से बोला, "प्रत्येक व्यक्ति मुझे ओ मेरे स्वादिष्ट फलों को ही पसंद करता है,

तुम्हें तो कोई पूछता भी नहीं।" बरगद का पेड़ बोला. "इतना घमंड अच्छा नहीं, प्रत्येक वस्तु का अपना एक विशेष महत्व और उपयोग होता है।"

इसके अगले ही दिन कुछ बच्चों ने उस घमंडी पेड़ के सारे आम तोड़ डाले और टहनियों एवं पत्तों को भी नुकसान पहुंचाया। अब आम का पेड़ बड़ा ही भद्दा लग रहा था।

आम के पेड़ की ऐसी स्थिति देखकर बरगद का पेड़ बोला, "घमंड हमेशा मुसीबत में डालता है। तुम्हारी खूबसुरती ही तुम्हारे लिए मुसीबत बन गई, जबकि मैं अब भी यहाँ पर वैसे ही सुरक्षित खड़ा हूँ।"


4. पहेली New Story In Hindi Funny


New Story In Hindi Funny

एक बार एक राजा किसी बुद्धिमान व्यक्ति को अपना प्रधानमंत्री नियुक्त करना चाहता था।

इसलिए उसने एक योजना बनाई और पूरे राज्य में घोषणा करवा दी कि जो भी एक पहेली का जवाब देगा,

वह उसे ही अपना प्रधानमंत्री नियुक्त करेगा। पहेली इस प्रकार थी- एक आदमी के पास एक शेर, एक बकरी और घास का एक परिंदा है।

वह व्यक्ति तीनों को किस प्रकार नदी पार ले जाए ताकि शेर बकरी को व बकरी घास को न खा सके। जबकि नाव में एक वक्त में सिर्फ दो ही लोग जा सकते हैं।

वह आदमी क्या करेगा? बहुत से लोगों ने इस पहेली को हल करने की कोशिश की, लेकिन कोई संतोषजनक उत्तर नहीं दे पाए।

तब एक युवक राजा के पास आया और बोला, "महाराज, पहेली के लिए मेरा हल इस प्रकार है, वह व्यक्ति पहले बकरी को नदी के पार लेकर जाएगा।

फिर वह शेर को नदी पार लेकर जाएगा, बकरी को अपने साथ वापस ले जाएगा। तब वह घास को लेकर जाएगा और फिर बकरी को लेकर जाएगा। इस प्रकार तीनों नदी पार हो जाएंगे।"

राजा उसकी चतुराई एवं बुद्धिमानी से अत्यधिक प्रसन्न एवं प्रभावित हुआ और उसे अपना प्रधानमंत्री नियुक्त कर दिया।


5. चतुर राजा Funny Story In Hindi

Funny Story In Hindi

राजा कालहेतु एक कर एवं लालची राजा था। उसने सभी पडोसी राज्यों पर आक्रमण कर उन्हें पराजित कर दिया था।

लेकिन सिर्फ राजा उदयमान को पराजित करने में वह असफल रहा था। उदयमान को बंदी बनाने के लिए राजा कालहेतु ने एक चाल चली।

उसने उदयमान को अपने महल में भोज पर आमंत्रित किया। राजा उदयमान ने उसका प्रस्ताव स्वीकार कर लिया। जब राजा उदयभान राजा कालकेतु के महल पहुँचा तो उसे बंदी बना लिया गया।

अब राजा के हेतु अपने एकमात्र दुश्मन को बंदी हो सुनकर बहुत खुश था। उसे अपने ऊपर अत्यधिक गर्व महसूस रहा था।

वह यह सोच-सोचकर फूला नहीं समा रहा था कि भले मैंने छल का सहारा लिया है, लेकिन अब मेरा कोई शत्रु नहीं रहा। अब उसे किसी का भय नहीं रहा था।

तभी अचानक एक सिपाही दौड़ता हुआ उसके पास आया और बोला, "महाराज, राजा उदयमान ने हमारे राज्य पर आक्रमण कर दिया है और उसकी सेना ने हमें चारों तरफ से घेर लिया है।

जिस व्यक्ति को आपने बंदी बनाया है, वह राजा उदयमान नहीं है, बल्कि एक बहरूपिया है।" उदयमान की इस युद्ध में विजय हुई। फिर उसने कालहेतु से दूसरे राज्यों के राजाओं को आजाद करने के लिए कहा।


6. जैसे को तैसा Comedy Hindi Story


Comedy Hindi Story

एक आम विक्रेता घूम-घूमकर आम बेच रहा था। कुछ देर बाद वह एक पान की दुकान के पास पान खाने के लिए रुका।

उधर पान बेचने वाले ने आम देखे तो वह आम बेचने वाले से चिल्लाकर बोला, "आम वाले! अगर तुम्हें बुरा न लगे तो पान के बदले आम दोगे?" आम विक्रेता खुशी-खुशी तैयार हो गया।

लेकिन पान बेचने वाला उसे धोखा देना चाहता था। उसने एक छोटा-सा पान का पत्ता लिया और एक छोटा पान बनाकर आम विक्रेता को दे दिया। आम विक्रेता ने उससे चूना डालने को कहा।

लेकिन पान वाला बोला, "जाओ और पान को दीवार से रगड़ो। चूना अपने आप मिल जाएगा।" आम विक्रेता समझ गया कि पान वाला उसे धोखा दे रहा है। इसलिए उसने पान वाले को हरा आम दिया।

हरा आम देखकर पान वाला बोला, "मुझे पीला पका हुआ आम दो।" उसकी बात सुनकर आम विक्रेता हँसते हुए बोला, "जाओ और पीले रंग से पुती हुई दीवार से आम को रगड़ो तो वह पीला हो जाएगा।"

इस प्रकार आम विक्रेता ने पान वाले के साथ वैसा ही व्यवहार किया, जैसा कि उसने किया था। इसे ही कहा जाता है- 'जैसे को तैसा'।


Related:-



7. खुजली For Kids Hindi Funny Story


For Kids Hindi Funny Story

एक दिन एक राजा ने एक भिखारी को महल के दरवाजे के सामने अपनी पीठ रगड़ते हुए देखा। उसने अपने सिपाहियों से भिखारी को पकड़कर राजदरबार में ले आने को कहा।

सिपाही फौरन गए और भिखारी को पकड़कर ले आए। राजा ने उससे पूछा, "तुम महल के दरवाजे के सामने अपनी पीठ क्यों खुजला रहे थे?"

भिखारी बोला, "महाराज, मेरी पीठ में खुजली हो रही थी, इसलिए मैं महल के दरवाजे के सामने पीठ खुजला रहा था।" राजा ने यह सुनने के बाद अपने सिपाहियों को आदेश दिया,

"इस भिखारी को बीस स्वर्ण मुद्राएँ दी जाएँ।" जल्दी ही यह खबर पूरे राज्य में आग की तरह फैल गई। कुछ समय बाद राजा ने दो अन्य भिखारियों को महल के सामने अपनी पीठ रगड़ते देखा।

उन्हें भी बुलवाकर राजा ने उनसे पीठ खुजाने का कारण पूछा। उन्होंने भी जवाब दिया कि उनकी पीठ में खुजली हो रही थी।

यह सुनकर राजा ने अपने सिपाहियों से कहा, "इन भिखारियों की पीठ की खुजली ठीक करने के लिए इनकी पीठ पर बीस-बीस कोड़े लगाओ।"

यह सुनकर दोनों तुरंत बोले, "लेकिन महाराज, आपने तो एक अन्य भिखारी को वीस स्वर्ण मुद्राएँ दी थीं।" राजा बोला, "उसने सच कहा था, लेकिन तुम दोनों झूठ बोल रहे हो।

यदि चाहते तो तुम दोनों एक-दूसरे की पीठ खुजला सकते थे। तुम दोनों यहाँ सिर्फ लालच के कारण ही आए हो।" दोनों भिखारी अपनी करनी पर शर्मिंदा थे।

8. आलसी चिड़िया Lazy Hindi Funny Story


Lazy Hindi Funny Story

चिक्की, मिक्की नाम की दो चिड़िया एक घोंसले में रहती थीं। दोनों बहुत आलसी थीं। सर्दी का मौसम था।

चारों तरफ ठंडी हवा चल रही थी। बर्फवारी भी हो रही थी। संयोग से उनके घोंसले में एक छेद हो गया।

छेद से ठंडी हवा आने के कारण उनका घोंसला एकदम ठंडा हो जाता था। चिक्की और मिक्की दोनों को भारी ठंड लगती।

चिक्की ने सोचा, 'मुझे आश्चर्य है कि मिक्की इस छेद को क्यों ठीक नहीं करवाती है।' वहीं दूसरी तरफ मिक्की ने सोचा, 'चिक्की बड़ी आलसी है।

वह क्यों नहीं इस छेद को ठीक करती?' इस तरह दोनों ही एक-दूसरे से उस छेद को बंद करवाने की उम्मीद लगाए बैठी थीं।

फलस्वरूप उनके घोंसले का छेद वैसे ही बना रहा। धीरे-धीरे बर्फवारी तेज हो गई और हवा भी तेज चलने लगी। अब छेद के रास्ते बर्फ उनके घोंसले में प्रवेश कर गई।

अब आलसी चिड़िया ठंड से काँपने लगीं, लेकिन किसी ने भी छेद को बंद करने की कोशिश नहीं की अंतिम दोनों ठंड से मर गईं। इस प्रकार, अपने आलसी स्वभाव के कारण दोनों चिड़ियाँ अकाल मौत का शिकार बनीं।

Related:-


9. चालाकी नहीं चली Best Hindi Funny Story


Best Hindi Funny Story

भोलू और गोलू नामक दो कौवे अच्छे मित्र थे। एक दिन उन दोनों में अपनी-अपनी श्रेष्ठता सिद्ध करने के लिए झगड़ा होने लगा।

उन्होंने तय किया कि जो चुनौती को पूरा कर लेगा, वही श्रेष्ठ होगा। चुनौती यह थी कि दोनों को अपनी चोंच में एक एक भरा हुआ थैला लेकर उड़ना था।

जो अपने थैले को लेकर आकाश में अधिक ऊपर उड़ेगा, वही श्रेष्ठ होगा। गोलू बहुत ही चालाक कौआ था। उसने अपने थैले में रूई और भोलू के थैले में नमक भरा और दोनों ने उड़ान भरी।

जल्दी ही थैले का वजन कम होने के कारण गोलू भोलू से अधिक ऊपर उड़ने लगे। और भारी वजन होने के कारण भोलू ऊँची उड़ान भरने में असमर्थ था। तभी बारिश शुरू हो गई।

रूई पानी सोखने के कारण भारी हो गई और नमक घुलनशील होने के कारण पानी में घुल गया। इसके फलस्वरूप गोलू का थैला भारी और भोलू का थैला हल्का हो गया।

अब भोलू ने गोलू के मुकाबले अधिक ऊँची उड़ान भरी। इस तरह भोलू वह चुनौती जीत गया।


10. चतुर मेमना Hindi Funny Story


Hindi Funny Story

एक भेड़िया भूखा था। वह भोजन की तलाश में जंगल में इधर से उधर भटक रहा था। तभी उसे नहर के किनारे से आती एक मेमने के मिमियाने की आवाज सुनाई पड़ी।

यह आवाज सुनकर उसका दिल खुशी से झूम उठा। उसने मन ही मन सोचा, 'चलो, अब अधिक परिश्रम नहीं करना पड़ेगा।

क्यों न मैं इस मेमने को खाकर अपनी भूख शांत कर लो। उसने जल्दी से नहर के पास जाकर देखा कि सामने स्थित एक पहाड़ी पर वह मेमना खड़ा है। उनके बीच पर्याप्त दूरी थी।

भेड़िये के वहाँ पहुँचने से पहले मेमना भाग भी नहीं सकता था। इसलिए भेड़िये ने एक योजना बनाई और बोला, "प्यारे छोटे मेमने! यहाँ नीचे चरागाह में आ जाओ।

यहाँ पर चरने के लिए हरी-हरी नर्म घास है। तुम यहाँ पर नहर का ठंडा मधुर जल भी पी सकते हो।" चालाक मेमना भेड़िए की चालाकी भाँपकर बोला, "सुझाव के लिए धन्यवाद भेड़िया भाई।

लेकिन मैं यहीं पर ठीक हूँ। यहाँ मेरे लिए पर्याप्त घास है। इस तरह भेड़िए की योजना असफल हो गई। किसी ने ठीक ही कहा है कि मक्का से होशियारी अच्छी होती है।

Also Read:-


Post a Comment

0 Comments